LIVE TVअपराधउत्तर प्रदेशब्रेकिंग न्यूज़

माझा जमथरा: गौरापट्टी की अवैध प्लॉटिंगों पर गरजा प्राधिकरण का बुलडोजर

ग्रीन बेल्ट एरिया में बने सभी मकानों को भेजा गया है नोटिस अवैध प्लॉटिंगों का हो रहा ध्वस्तीकरण-डॉ संजीव कुमार सचिव एडीए

English English Hindi Hindi

प्राधिकरण की कार्यवाही से अवैध प्लाटिंग करने वालो में मचा हड़कंप

अयोध्या। जमीनों के अवैध क्रय विक्रय को लेकर सुर्खियों में बने रहने वाले डूब क्षेत्र माझा जमथरा में गुरुवार को अयोध्या विकास प्राधिकरण का अवैध प्लॉटिंगों पर बुलडोजर गरजा तो शहर के नामी गिरामी प्रॉपर्टी डीलरों सहित क्रेताओं में हड़कम्प मच गया। चकबन्दी प्रक्रिया में अभी तक शामिल न हो पाने के कारण प्रॉपर्टी डीलरों सहित राजस्व विभाग के अफसरों ने माझा क्षेत्र की बेशकीमती अरबो की जमीनों को व्यक्तिगत लाभ के लिए कामधेनु बना लिया है।
बता दे कि newsblast.in पर फर्जी खतौनी बनाकर अरबो की जमीन बेंचे जाने के मामले का बड़ा खुलासा किया था। जिसके बाद

न्यूज़ ब्लास्ट लगातार इससे जुड़े हर पहलू पर अपनी कवरेज करता चला आ रहा है। बता दे कि उक्त माझा क्षेत्र में चकबन्दी न होने के कारण राजस्व अधिकारियों की जहां चांदी हो गयी है वही असली खतौनी धारक अपना कागज लेकर घूम रहे है और सफेदपोश प्रॉपर्टी डीलरों अवैध कब्जेदारों के साथ राजस्व विभाग के लेखपाल व अधिकारी करोड़पति बनते जा रहे है। गुरुवार को हुई विकास प्राधिकरण की कार्यवाही से माझा में जमीन का कारोबार करने वाले डीलरों में हड़कंप मच गया। डीलरों का कहना है कि जिन लोगो ने नींव भरवाया है उसे ही क्यों ध्वस्त किया जा रहा है मकानों के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही क्यों नही की जा रही है। अवैध प्लॉटिंगों का ध्वस्तीकरण विकास प्राधिकरण का एक सराहनीय कार्य माना जा रहा है लेकिन वही सवाल यह है कि उसी क्षेत्र में जिन सैकड़ो एकड़ की बेशकीमती जमीनों को सरकार के नौकरशाहों बड़े मठाधीसो ने लेकर बड़ा खेल खेला है क्या प्राधिकरण का बुल्डोजर वहां भी पहुंचेंगा।

IMG_20220625_182222
IMG-20220722-WA0034
e6d
IMG-20220621-WA0013

प्राधिकरण के सचिव डॉ संजीव कुमार ने न्यूज़ ब्लास्ट को फोन पर हुई बातचीत में बताया कि अवैध प्लॉटिंगों ध्वस्तीकरण की कार्यवाही लगातार जारी रहेगी। जिन लोगो ने ग्रीन बेल्ट एरिया में मकान भवन का निर्माण बिना प्राधिकरण को सूचित किये बनवाया है उन सभी को नोटिस भेज दी गयी है। उन्होंने बताया कि ग्रीन बेल्ट एरिया में सिर्फ कृषि बागवानी ही कि जा सकती है किसी भी प्रकार के निर्माण की अनुमति नही दी जा सकती है।

वही दूसरी ओर सरयू नगर विकास समिति के अध्यक्ष अवधेश सिंह ने जिलाधिकारी को लिखे पत्र में कहा है कि सहायक अभिलेख अधिकारी भान सिंह पर उत्तर प्रदेश में लोकप्रिय सरकार की छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए। भूमाफियाओं के संरक्षक मार्गदर्शक भान सिंह सहायक अभिलेख अधिकारी को उनके पद से हटाने के साथ साथ उनके स्थान पर ईमानदार छवि वाले किसी अधिकारी की पोस्टिंग करने साथ मांझा जमथरा में हुए अवैध भूमि क्रय विक्रय की जांच उच्च स्तरीय जांच टीम बनाकर करवाने की मांग किया है।

Related Articles

Back to top button